दिल्ली में खत्म हुआ मॉनसून का इंतजार, लेकिन बारिश के बाद लगा लंबा ट्रैफिक जाम!

बहुप्रतीक्षित दक्षिण-पश्चिम मानसून आखिरकार मंगलवार की सुबह दिल्ली पहुंच गया!

दिल्ली में खत्म हुआ मॉनसून का इंतजार, लेकिन बारिश के बाद लगा लंबा ट्रैफिक जाम!

 जिससे भीषण गर्मी से लोगों को कुछ राहत मिली. मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि पिछले 19 सालों में मानसून इस बार दो सप्ताह से अधिक देरी से दिल्ली पहुंचा है. वर्ष 2002 में मानसून 19 जुलाई को दिल्ली पहुंचा था. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के वरिष्ठ वैज्ञानिक के जेनामणि ने कहा, ‘‘मानसून दिल्ली पहुंच गया है बारिश के बाद कई स्थानों पर पानी भर गया. जलभराव के कारण शहर में कई जगह जाम लग गया और लोग कुछ देर तक एक स्थान पर ही अटके रहे. कार्यालय जाने वाले कई लोगों ने सोशल मीडिया पर वीडियो तथा तस्वीरें साझा कर अपनी परेशानी बताई और कुछ ने पुलिस से भी मदद मांगी. धौला कुआं में भारी जाम लगा था और एक व्यक्ति ने शिकायत की कि वह लगभग 90 मिनट से वहां फंसा है. आजादपुर, दिल्ली कैंट और कालिंदी कुंज फ्लाईओवर सहित अन्य स्थानों पर भी भारी जाम था पूर्वी दिल्ली के शाहदरा से रोहिणी अदालत जा रहे वकील राहुल तोमर ने ट्वीट किया आजादपुर में भारी जाम है. मैं अपने मुवक्किल से मुलाकात करने जा रहा था और यहां करीब 50 मिनट से फंसा हूं पूर्वी दिल्ली में लक्ष्मी नगर से आईटीओ जाने वाले मुकेश श्रीवास्तव ने भी बताया कि वह कार्यालय देर से पहुंचे. श्रीवास्तव ने कहा मैं लक्ष्मी नगर से आईटीओ की ओर आ रहा था आम तौर पर मुझे 15 मिनट का समय लगता है आज मुझे दोगुना समय लगा मेरे सहकर्मियों के साथ भी यही हुआ भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) अनुसार, इस बार दिल्ली में मानसून करीब 16 दिन देरी से पहुंचा है. करीब 19 वर्षों में मानसून इस बार सबसे देर से दिल्ली पहुंचा है. 2002 में मानसून 19 जुलाई को दिल्ली पहुंचा था. आम तौर पर मानसून 27 जून को दिल्ली पहुंच जाता है. आठ जुलाई तक मानसून पूरे देश में छा जाता है. पिछले साल दिल्ली में मानसून 25 जून को पहुंचा था और देश भर में 29 जून को छा गया था मौसम विभाग ने कहा, ‘‘दक्षिण-पश्चिम मानसून दिल्ली सहित देश के शेष हिस्सों, उत्तर प्रदेश के शेष हिस्सों, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में आगे बढ़ गया है. इस तरह दक्षिण-पश्चिम मानसून ने आठ जुलाई की सामान्य तिथि के मुकाबले 13 जुलाई को पूरे देश में छा गया है.’’ विभाग ने कहा कि 12 जुलाई को सुबह 8.30 बजे से 13 जुलाई को सुबह 8.30 बजे के बीच सफदरजंग के मौसम केंद्रों में 2.5 सेमी, पालम में 2.4 सेमी और लोधी रोड में 0.9 सेमी बारिश दर्ज की गई पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के सचिव माधवन राजीवन ने ट्वीट किया, ‘‘आखिरकार दिल्ली में मानसून की बारिश हुई. हालांकि पिछले 2-3 दिनों में मानसून की स्थिति बनी हुई थी, भारत मौसम विभाग मानसून के आने की घोषणा के लिए इस बारिश का इंतजार कर रहा था. पिछले दो दिनों में दिल्ली को छोड़कर दिल्ली के आसपास हर जगह बारिश हुई थी!