अवैध खनन की जानकारी देने वालों पर ही कार्रवाई

अवैध खनन की जानकारी देने वालों पर ही कार्रवाई

उन्नाव से दीपंशु वर्मा की खास खबर

अवैध खनन की जानकारी देने वालों पर ही कार्रवाई

Date- 2 Jun 2021

कोविड-19 के बचाव राहत में डीएम व अन्य उच्चाधिकारियों की व्यस्तता का फायदा अवैध खननकर्ताओं के लिए मुफीद बन गया है। विभाग ने भी अपनी जिम्मेदारी से आंखें मूंद ली हैं। जिसका फायदा उठाकर कहीं बालू खनन तो कहीं पर मिट्टी खनन किए जाने का काम दिन और रात चल रहा है। इसकी जानकारी देने वाले लोगों पर ही क्षेत्रीय जिम्मेदार कार्रवाई कर रहे हैं।

अचलगंज थाने की चौकी कोलुहागाड़ा के संरक्षण में हो रहे गंगा बालू के खनन की शिकायत करना ग्राम प्रधान व ग्रामीणों को मंहगा पडा। चौकी के स्टॉफ की शिकायत जांच करने पहुंचे इंस्पेक्टर के सामने करना ग्रामीणों को मुश्किल कर गया। इसे सरकारी कार्य में बाधा व कोविड-19 का उल्लंघन मानते हुए ग्राम प्रधान सहित आधा सैकड़ा ग्रामीणों पर अभियोग दर्ज किया गया है। थाना क्षेत्र की ग्राम पंचायत मालमऊ प्रधान प्रेम शंकर चौहान ने मंगलवार को उपजिलाधिकारी सदर व इंस्पेक्टर अचलगंज से घसिल पुरवा बंधा के निकट गंगा अवैध बालू खनन की कोलुहागाड़ा चौकी के संरक्षण में होने की शिकायत की। इंस्पेक्टर के आदेश पर पहले कोलुहागाड़ा चौकी प्रभारी स्टाफ को लेकर मौके पर पहुंचे और शिकायत करने को लेकर ग्रामीणों को खूब खरी खोटी सुनाई। उपजिलाधिकारी सत्यप्रिय सिंह के आदेश पर थोड़ी ही देर बाद स्वयं इंस्पेक्टर राघवन सिंह जांच करने पहुंचे। ग्रामीणों ने कोलुहागाड़ा चौकी के कारनामों व चर्चित दीवान की कार्यशैली व खनन कराने के आरोप लगाए। प्रधान व ग्रामीणों की इंस्पेक्टर से बहस हो गई। मामला जेल भेजने की धमकी तक पहुंच गया। जिसका किसी ने वीडियो बना कर वायरल कर दिया। इंस्पेक्टर राघवन कुमार सिंह ने बताया कि मौके पर खनन होते नहीं पाया गया। इसकी सूचना एसडीएम को दी गई है। नाले की खोदाई हुई है। उसकी सिल्ट उठायी गयी है जो बंधे से दूर है। बाद में प्रधान दूसरी जगह नदिया पर खनन की बात कह कर उलझाने लगे। उन्होंने ग्राम प्रधान सहित चार नामित व 15 अज्ञात के विरुद्ध सरकारी कार्य में बाधा व कोविड 19 उल्लंघन का अभियोग दर्ज होना बताया है। वहीं ग्रामीणों की शिकायत पर चौकी से दोनों दीवानों को हटाकर थाने में ड्यूटी करने की बात कही

बुलडोजर व ट्रैक्टर ट्रॉलियों से हो रहा खनन

गंजमुरादाबाद: बांगरमऊ क्षेत्र के गांव आलमऊ सराय के निकट एक बुलडोजर मशीन व करीब आधा दर्जन ट्रैक्टर ट्रॉलियों से सोमवार की देर शाम से मंगलवार की सुबह तक धड़ल्ले से खनन करके सैकड़ो ट्राली मिट्टी खेत से उठवाकर भरान करवाया गया। पूरी रात गरजती रही बुलडोजर मशीन की गूंज क्षेत्रीय जिम्मेदारों के कानों तक नही पहुंच सकी। जिससे बेखौफ खनन माफिया लगातार क्षेत्र में सक्रिय बने हुए हैं। पूर्व में भी गांव जमादार पुरवा के निकट व गांव सिरधर पुर के निकट बड़े पैमाने पर खनन का मामला प्रकाश में आ चुका है। कितु इस खनन के कारोबार पर लगाम लगता नही दिख रहा है। जिससे तमाम खनन संबंधी आदेशों की खूलेआम धज्जियां उड़ रही हैं।

खान अधिकारी का नंबर सेवा से बाहर

बालू व मिट्टी के खनन की अनुमति की जानकारी के लिए खान अधिकारी अमित रंजन को फोन लगाया जाता रहा, खान अधिकारी का नंबर सेवा से बाहर बताता रहा। वहीं सिटी मजिस्ट्रेट चंदन पटेल ने कुछ देर में जानकारी देने की बात कही। लेकिन देर शाम तक वह भी सही जानकारी नहीं दे पाए।