आईआईटी कानपुर के ड्रोन ने अमेरिका में लोहा मनवाया, इन खासियतों ने कई देशों को पछाड़ा -

पीएचडी शोधार्थी रामकृष्णा और एमटेक छात्र चिराग जैन ने प्रो. अभिषेक के निर्देशन में 'विभ्रम' को तैयार किया है। यह तेज गति में उड़ान भरने के साथ ही अत्यधिक ऊंचाई पर जाने में सक्षम है। अचानक लैंडिंग में भी माहिर है। 

आईआईटी कानपुर के ड्रोन ने अमेरिका में लोहा मनवाया, इन खासियतों ने कई देशों को पछाड़ा -

आईआईटी कानपुर के ड्रोन विभ्रम ने अमेरिका, इस्राइल, आस्ट्रेलिया, फ्रांस, चीन, इंग्लैंड समेत कई देशों के बीच अपनी काबिलियत का लोहा मनवाया। उसे अमेरिका में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्टैंडर्ड एंड टेक्नोलॉजी की ओर से आयोजित ऑनलाइन प्रतियोगिता में तीन कैटेगरी में खिताब मिला है।

निदेशक प्रो. अभय करंदीकर, एयरोस्पेस इंजीनियरिंग के प्रो. अभिषेक समेत अन्य फैकल्टी ने टीम को बधाई दी है। पीएचडी शोधार्थी रामकृष्णा और एमटेक छात्र चिराग जैन ने प्रो. अभिषेक के निर्देशन में विभ्रम को तैयार किया है।

यह तेज गति में उड़ान भरने के साथ ही अत्यधिक ऊंचाई पर जाने में सक्षम है। अचानक लैंडिंग में भी माहिर है। यह ड्रोन हेलीकॉप्टर की डिजाइन का है। प्रतियोगिता में ड्रोन को एक घंटे तक पांच किलोग्राम वजन लेकर उड़ना था। 

छात्रों ने इसका एक घंटे का वीडियो बनाकर प्रतियोगिता में भेजा था। प्रो. अभिषेक के मुताबिक, कम लागत, सबसे कम वजन और सबसे सरल डिजाइन के लिए इनाम मिले हैं। फरवरी में इसी मुकाबले के तीसरे चरण में यह टॉप थ्री में रहा था। इस बार चौथे चरण की प्रतियोगिता थी।