यूपी: आगरा से अगवा वरिष्ठ चिकित्सक को पुलिस ने कराया मुक्त, युवती सहित दो गिरफ्तार-

वरिष्ठ चिकित्सक अपहरण कांड में आगरा पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने अगवा किए गए वरिष्ठ चिकित्सक उमाकांत गुप्ता को मुक्त करा लिया है। 

यूपी: आगरा से अगवा वरिष्ठ चिकित्सक को पुलिस ने कराया मुक्त, युवती सहित दो गिरफ्तार-

आगरा से अगवा किए गए वरिष्ठ चिकित्सक उमाकांत गुप्ता को पुलिस ने गुरुवार तड़के बदमाशों के चंगुल से सकुशल मुक्त करा लिया। चिकित्सक को राजस्थान के धौलपुर जिले के बीहड़ में बंधक बनाकर रखा गया था। पुलिस ने अपहरण कांड में शामिल युवती और एक युवक को गिरफ्तार किया है। अन्य बदमाशों की तलाश में जुटी है।

ट्रांसयमुना कॉलोनी निवासी डॉक्टर उमाकांत गुप्ता सर्जन हैं। उनकी पत्नी डॉ. विद्या गुप्ता स्त्री रोग विशेषज्ञ हैं। दो बेटे अभिषेक और अभिलाष भी चिकित्सक हैं। डॉक्टर उमाकांत गुप्ता (60) का मंगलवार की शाम को अपहरण कर लिया गया था। वह अपनी कार से हाईवे स्थित अपने विद्या नर्सिंग होम जाने के लिए घर से निकले थे। रात तकरीबन 11 बजे तक घर नहीं लौटने पर परिजनों ने पुलिस को जानकारी दी थी। 

राजस्थान के बॉर्डर पर मिली थी आखिरी लोकेशन  
उमाकांत गुप्ता का मोबाइल भी स्विच ऑफ हो गया था। उनकी अंतिम लोकेशन राजस्थान बार्डर से सटे सैंया थाना क्षेत्र के तेहरा गांव में आई। बुधवार को उनकी कार धौलपुर में लावारिस हालत में मिल गई। इस पर पुलिस की पांच टीमों को लगाया गया। एसपी सिटी के नेतृत्व में एक टीम ने धौलपुर जिले के बीहड़ में डेरा डाल लिया था। पुलिस टीम ने रातभर बीहड़ में कांबिंग की।

 गुरुवार तड़के चिकित्सक को धौलपुर के बीहड़ से मुक्त करा लिया गया। पुलिस पहले उन्हें धौलपुर ले गई। इसके बाद आगरा लाया गया। पुलिस ने एक युवती और युवक को गिरफ्तार किया है। बताया गया है कि वरिष्ठ चिकित्सक का अपहरण बदन सिंह तोमर गैंग ने किया था। पुलिस अब गैंग के सरगना व अन्य बदमाशों की भी तलाश में जुटी है।