बरेली और मीरगंज में नही दिखा किसान यूनियन के बंद का असर,

बरेली और मीरगंज में नही दिखा किसान यूनियन के बंद का असर,

बरेली- भारतीय किसान यूनियन ने सोमवार को भारत बंद का आहवान किया था जिसका असर बरेली मे देखने को नहीं मिला जिले में दुकानें रोज़ की तरह ही खुली नज़र आई ।भारतीय किसान यूनियन के लोगो ने मीरगंज के  सिंधौली चौराहे पर एकत्र होकर   बीजेपी की सरकार के खिलाफ जमकर नारे लगाए| किसान यूनियन के प्रदर्शन के दौरान देखने वाली बात यह थी कि किसान यूनियन के मुस्लिम कार्यकर्ता हर हर महादेव कर नारे लगा रहा था ,और हिन्दू कार्यकर्ता   अल्लाह हूं अकबर के नारे लगाते हुए नज़र आया |


यह नारे इस लिए लगाए जा रहे थे कि कुछ दिनों पहले टिकैत ने अल्लाह हूं अकबर का नारा एक रैली मे लगाया था जिसके बाद उनकी उनकी पूरे देश में सोशल मीडिया पर किरकिरी हुई थी क्योंकि किसी भी मुस्लिम किसान यूनियन के कार्यकर्ता ने हर हर महादेव के नारे नही लगाए थे| 

चौधरी हरवीर सिंह ने बताया कि आज भारतीय किसान यूनियन के द्वारा भारत बंद का आह्वान किया गया है जिसके चलते वो आज सिंधौली चौराहे पर केन्द्र सरकार के तीनों कृषि कानूनों का विरोध कर रहे है उन्होंने केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि अगर इन तीनो काले कानूनो के कारण बीजेपी की सरकार 2022 में बड़ी हार का सामना करेगी ।उन्होंने कहा कि भारतीय किसान यूनियन 2022 मे जो पार्टी बीजेपी को चुनावो मे हराएगी उसका समर्थन करेगी ,साथ ही किसान नेता ने कहा कि वो गाँव में घर घर जाकर बीजेपी सरकार का विरोध करेंगे ।

एसडीएम कमलेश कुमार सिंह ने बताया कि आज भारतीय किसान यूनियन की तरफ से उनको  कृषि कानूनो के खिलाफ प्रधानमंत्री के नाम का  का ज्ञापन मिला है ,उन्होंने बताया कि किसान यूनियन की तरफ से शांति व्यवस्था  बनाते हुए ज्ञापन दिया गया है कही कोई रोड जाम और मार्केट  बंद नही कराई गई है ।