आर्यन पब्लिक स्कूल के प्रबंधक तथा उनके सदस्यों द्वारा पत्रकार से लिखित में मांगी माफी

आर्यन पब्लिक स्कूल के प्रबंधक तथा उनके सदस्यों द्वारा पत्रकार से लिखित में मांगी माफी

राम सनेही घाट । बाराबंकी कुछ दिन पहले आर्यन पब्लिक स्कूल कानूनगो लेखपाल द्वारा बताया गया आबादी गाटा नंबर 224 पर संचालित स्कूल का क्षेत्रफल हेक्टेयर में 3.6550 हैं जिस की मान्यता कक्षा 8 तक है लेकिन इंटर तक चलाया जा रहा है

विशेष सूत्रों द्वारा यह पता चला कि सिरौलीगौसपुर तहसील से इस भूमिका कुछ और लेख है जब उन लेखों का पता किया गया तब यह सब फर्जी पाया गया तहसील रामसनेहीघाट का मामला सिरौलीगौसपुर कैसे पहुंच गया तहसीलदार सिरौलीगौसपुर से जब प्रश्न किया गया तब वह मौन धारण कर लिए और कोई जवाब देने को तैयार नहीं हुए इससे या स्पष्ट होता है कि सरकार को गुमराह करके इन सब अभिलेखों को दरकिनारे करते हुए गुंडई बदमाशी पैसे के दम पर यह सब कार्य विद्यालय के लिए किया गया

जब या प्रकरण पत्रकार के सामने प्रकाश में आई तो उसने इस खबर को सोशल मीडिया और पेपरों पोर्टल चैनल के माध्यम से जिला अधिकारी उपजिलाधिकारी खंड शिक्षा अधिकारी कानूनगो लेखपाल सभी उच्च पदाधिकारी शासन प्रशासन के संज्ञान में लाने का कार्य किया तभी त्रिपाठी कंप्यूटर श्रीकांत त्रिपाठी मुरारपुर शाहपुर तहसील रामसनेहीघाट द्वारा सुरेंद्र सिंह उर्फ कल्लू पुत्र शत्रोहन सिंह बड़ेला नारायणपुर नामक गुंडा दबंग बदमाश भू माफिया को संरक्षण दे रखे हैं

 और आर्यन पब्लिक स्कूल का सदस्य भी है आर्यन पब्लिक स्कूल के पदाधिकारी जन घबराहट और दबंगई गुंडा गिरी धमकी पर उतारू हो गए और धमकी पर धमकी देने का कार्य शुरू कर दिया जैसे ही पत्रकार को इस बात की भनक सोशल मीडिया द्वारा और लोगों द्वारा लगी उसने तुरंत जिला अधिकारी कप्तान और कोतवाली प्रभारी त्रिपाठी को लिखित सूचना दी जिस पर कोतवाली प्रभारी त्रिपाठी ने तुरंत संज्ञान लेते हुए सुरेंद्र सिंह उर्फ कल्लू पुत्र शत्रोहन सिंह बड़ेला नारायणपुर दबंग गुंडा बदमाश भूमाफिया को बुलाकर जब जानकारी प्राप्त की तो वह माफी मांगने के लिए तैयार हो गया

और लिखित में पत्रकार से माफी मांगी और लिखा कि भविष्य में आपके तथा आपके परिवार के प्रति किसी प्रकार की कोई अनहोनी अगर होती है तो उसके जिम्मेदार हम होंगे इस बात पर माफीनामा के माध्यम से माफी मांगी पत्रकार एक समाज का दर्पण होता है और चौथा स्तंभ भी है इस सब को देखते हुए उसने सुरेंद्र सिंह उर्फ कल्लू पुत्र शत्रोहन सिंह बड़ेला नारायणपुर को क्षमा करते हुए बड़प्पन का और एक जिम्मेदार नागरिक का फर्ज निभाया है और यह भी साथ में हिदायत दी है जो जिसका कार्य क्षेत्र हैं उसे उस पर कार्य करने दिया जाए आप सही हैं तो आपको न्याय मिलेगा अगर आप गलत हैं तो दंडात्मक कार्यवाही होगी इस सब चीजों में इस प्रकार के शब्दों का प्रयोग नहीं होना चाहिए और बता भी दिया कि इस तरह आगे किसी व्यक्ति को कमजोर मत समझना क्योंकि संविधान और सरकार सभी के लिए बराबर हैं

 न्याय सभी को मिलेगा उच्च पद पर बैठे अधिकारियों ने तुरंत सच्चाई को ध्यान में लेते हुए सारी समस्याओं को तुरंत लिखा पढ़ी में सुलझा दिया और उसको आगे के लिए हिदायत दे दी यदि किस प्रकार की अगर किसी के व्यक्ति समाज के साथ तो तुम्हारे लिए कोई भी शिकायत आई तो उचित कार्यवाही की जाएगी यह आश्वासन पत्रकार साथी को देते हुए सुरेंद्र सिंह उर्फ कल्लू पुत्र शत्रोहन सिंह बड़ेला नारायणपुर के द्वारा माफीनामा भी लिखा गया