कोविड-19 की नई गाइडलाइन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को कहा गृह पृथकवास के तहत कोविड-19 रोगियों को संक्रमित होने के कम से कम 7 दिनों के बाद तक पृथक वास से छुट्टी दे दी जाएगी। अगर उन्हें लगातार तीन दिनों तक बुखार नहीं आता हो।

1.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड-19 रोगियों के लिए नई गाइडलाइन दी है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने हल्के या बिना लक्षण वाले  मामलो मे पृथक वास के संशोधित दिशा-निर्देश जारी किए है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह भी कहा है कि लोगों को डॉक्टर के परामर्श के बिना स्वयं दवाइयां लेने, रक्त जांच ,छाती का एक्स-र या सीटी स्कैन आदि के लिए जल्दबाजी नहीं करने की सलाह भी दी है। खुद से स्टेरॉइड नहीं लेना चाहिए तथा इसके अति प्रयोग या अनुचित उपयोग से अतिरिक्त जटिलताएं पैदा हो सकती है।

• मरीजों को 7 दिन के पृथक वास छुट्टी दे दी जाएगी अगर उन्हें 3 दिनों तक बुखार नहीं आता है लेकिन वह मास्क को पहनना जारी रखेंगे।

•मरीजों को 7 दिन की  गृह पृथकवास की अवधि समाप्त होने के बाद पुनःकोविड जांच की कोई आवश्यकता नहीं है।

•कोविड19 से संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आए बिना लक्षणों वाले लोगों को जांच कराने की जरूरत नहीं है।

•गृह पृथकवास वाले मरीजों की निगरानी के लिए जिला प्रशासन जिम्मेदार होगा।

 •स्वास्थ्य कर्मचारियों को रोगी के प्रति दिन संपर्क में रहना होगा। व्यक्तिगत रूप से या टेलीफोन माध्यम, मोबाइल माध्यम से संपर्क कर तापमान, नाड़ी, ऑक्सीजन स्तर ,रोगियों का समग्र स्वास्थ्य और लक्षणों का विवरण प्राप्त करना।

•उनकी टीम राज्य सरकार की नीति के अनुसार रोगी व देखभाल करने वाले को किट भी प्रदान कर सकती है किट में मरीजों और परिवार के सदस्यों को शिक्षित करने के लिए स्थानीय भाषा में विस्तृत पुस्तिका के साथ मास्क, सैनीटाइजर ,पेरासिटामोल को शामिल किया जा सकता है।

H लाइव न्यूज़ नेटवर्क सभी देशवासियों से यह अनुरोध करती है कि वहां मास्क का उपयोग करें और साथ ही साथ   15 वर्ष से18 वर्ष तक तथा 18 वर्ष से ऊपर के सभी आयु वाले  वैक्सीनेशन सेंटर जाकर वैक्सीन लगवाए।

संवाददाता अभिषेक गुप्ता की खास रिपोर्ट