रैली और रोड शो: 11 फरवरी तक रोक

आज चुनाव आयोग ने कोरोना के हालात की समीक्षा के बाद नई गाइडलाइन जारी के साथ कुछ रियायतें भी दी हैं।

रैली और रोड शो: 11 फरवरी तक रोक

नई दिल्ली: पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में अभी चुनावी रैलियों और जनसभाओं पर प्रतिबंध नहीं हटाया जाएगा. परंतु कोरोना के हालात की समीक्षा के बाद राजनीतिक दलों को कुछ रियायतें दी गई हैं।

8 जनवरी को पांच राज्यों में चुनाव की तारीखों की घोषणा के बाद चुनाव आयोग ने 15 जनवरी तक रैलियों और जनसभाओं रोड पर रोक लगाई थी .साथ ही साथ ही कोरोना के हालात की समीक्षा के बाद आगे का फैसला लिया जाएगा. इससे पहले 15 जनवरी की समीक्षा के बाद प्रतिबंध 22 जनवरी तक बढ़ा दिया था और 22 जनवरी की समीक्षा के बाद प्रतिबंध को 31 जनवरी तक बढ़ा दिया गया था.

आज चुनाव आयोग ने कोरोना के हालात की समीक्षा के बाद फैसला लिया है पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए रैली, जनसभा ,रोड शो पर 11 फरवरी तक रोक लगा दी है।

अब 10 लोग डोर टू डोर प्रचार की जगह 20 लोग डोर टू डोर प्रचार कर सकते हैं।

राजनीतिक दलों को 300 की जगह 500 लोगों के साथ इंडोर मीटिंग करने की इजाजत मिली है।

अब 500 की जगह 1000 लोगों के साथ सभा करने की अनुमति मिली है।

संवाददाता अभिषेक गुप्ता की खास रिपोर्ट