22 साल की महिला बनी जिला परिषद

22 साल की महिला बनी जिला परिषद

हिंदुस्तान लाइव न्यूज:-

22 साल की खुशबू रजक लखीसराय से 11 हज़ारों मतो से विजयी होकर जिला परिषद चुनी गई।।

ये नीतीश जी के सामाजिक न्याय महिला सशक्तिकरण और पंचायत में दलित अतिपिछड़ा आरक्षण का कमाल है।

ये तस्वीर बिहार में नारी सशक्तिकरण की बेहतरीन उदाहरण है। 

यह तस्वीर बिहार में दलित और पिछड़ों की उत्थान की जीती जागति मिसाल है। 

ये तस्वीर उन लोगों के गाल पर एक तमाचा भी है जो कहते हैं कि नीतीश कुमार ने बिहार में किया ही क्या है?

ये नए बिहार की तस्वीर है।

क्या सदियों पहले एक जाती जिसका पेशा कपड़े धोने तक ही सीमित था वो बिहार जैसे घाघ राज्य में जिला परिषद बन सकते थे?

लिखने को तो बहुत कुछ है पर फिलहाल शुभकामना दीजिए " खुशबू कुमारी "को जिसने कई ल़डकियों और महिलाओं के लिए मिसाल पेश की है।