कांग्रेस :पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने चिंतन शिविर में कहा , पार्टी ने हम सभी को बहुत कुछ दिया है अब समय है कर्ज उतारने का और केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा

उदयपुर में शुक्रवार को नव संकल्प चिंतन शिविर में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ,मुख्यमंत्री, कार्यकर्ता मौजूद थे .शिविर में सोनिया गांधी ने कहा ,ऐसा माहौल पैदा किया गया है कि लोग लगातार डर और असुरक्षा के भाव में रह रहे हो । अल्पसंख्यकों को शातिर तरीके से क्रूरता के साथ निशाना बनाया जा रहा है। अल्पसंख्यक हमारे समाज का अभिन्न अंग हैं और हमारे देश के समान नागरिक हैं।

कांग्रेस :पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने चिंतन शिविर में कहा , पार्टी ने हम सभी को बहुत कुछ दिया है अब समय है कर्ज उतारने का और केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा

उदयपुर नव संकल्प शिविर से पहले मीडिया से बात करते हुए पार्टी महासचिव अजय माकन ने कहा कि कांग्रेस बैठक में ,'एक परिवार एक पद ,पर चर्चा करेगी .परिवार के दूसरे व्यक्ति को टिकट तभी दिया जाएगा जब वह 5 साल से पार्टी पर काम कर रहा हूं इस शर्त का मकसद चुनाव से ठीक पहले पैराशूट से उतरने वाले उम्मीदवारों को रोकना है .

पार्टी ने हम सभी को बहुत कुछ दिया है अब समय है कर्ज उतारने का।' उदयपुर में कांग्रेस के चिंतन शिविर को संबोधित करते हुए पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने एक बार फिर संगठन को मजबूत करने की अपील पार्टी कार्यकर्ताओं से की है। उन्होंने कहा कि हाल में मिली नाकामयाबियों से हम बेखबर नहीं हैं। हर बार हमारे संगठन ने असरदार प्रतिक्रिया दर्शायी हैं। असाधारण परिस्थितियों का मुकाबला असाधारण तरीके से किया जा सकता है। इस बात के प्रति मैं पूरी तरह सचेत हूं। हर संगठन को न केवल जीवित रहने के लिए बल्कि बढ़ने के लिए समय-समय पर अपने अंदर परिवर्तन लाने होते हैं। हमें सुधारों की सख्त जरुरत है। रणनीति में बदलाव, रोजाना काम करने में परिवर्तन ये सब बुनियादी मुद्दा है।

कांग्रेस के चिंतन शिविर में पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने केंद्र सरकार और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि केंद्रीय एजेंसियों का गलत इस्तेमाल किया जा रहा। महात्मा गांधी के हत्यारों का महिमा मंडन किया जा रहा। सोनिया गांधी ने कहा कि बीजेपी और आर एस एस की नीतियों के कारण देश जिन चुनौतियों का सामना कर रहा है, उस पर विचार करने के लिए ये शिविर एक बहुत अच्छा अवसर है। 

सोनिया गांधी ने शुक्रवार को कांग्रेस चिंतन शिविर के उद्घाटन संबोधन के दौरान कहा कि लोगों की हमसे जो उम्मीदें हैं उनसे हम बेखबर नहीं हैं। हम यहां पूरी विनम्रता के साथ आत्म निरीक्षण तो कर ही रहे हैं, हमें उम्मीद है कि जब हम यहां से निकलेंगे तो एक नई ऊर्जा के साथ प्रेरित होकर निकलेंगे। यह राष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा करने और सार्थक आत्मनिरीक्षण का अवसर है। 

सोनिया गांधी ने कहा कि हमें सुधारों की सख्त जरुरत है। हमारा पुनरुत्थान सिर्फ विशाल सामूहिक प्रयासों से हो पाएगा। वो विशाल सामूहिक प्रयास न टाले जा सकते हैं ना ही टाले जाएंगे। हमारे लंबे और सुनहरे इतिहास में आज एक ऐसा समय आया है जब हमें निजी आकांक्षाओं को संगठन के हितों के अधीन रखना होगा।  

एच लाइव न्यूज़ संवादाता अभिषेक  गुप्ता की खास रिपोर्ट