UP B.Ed. JEE 2021 : यूपी संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा की तिथि को लेकर है ये लेटेस्ट अपडेट

UP BEd JEE 2021 : यूपी संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा की तिथि जल्द ही घोषित हो सकती है. परीक्षा का आयोजक लखनऊ विश्वविद्यालय जल्द ही इसकी घोषणा कर सकता है.

UP B.Ed. JEE 2021 : यूपी संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा की तिथि को लेकर है ये लेटेस्ट अपडेट

उत्तर प्रदेश में संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा (UP B.Ed. JEE ) 2021 की तिथि जल्द घोषित हो सकती है. रिपोर्ट के अनुसार लखनऊ विश्वविद्यालय जल्द ही इसकी घोषणा कर सकता है. यूपी बीएड जेईई 2021 के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थी अधिक जानकारी के लिए लखनऊ विश्वविद्यालय की वेबसाइट lkouniv.ac.in पर विजिट कर सकते हैं. दरअसल, कोरोना संक्रमण के मामलों में गिरावट आने के बाद उम्मीद की जा रही है कि लखनऊ विश्वविद्यालय में जल्द ही कामाकाज सामान्य होगा. जिसके बाद परीक्षाएं आयोजित की जा सकेंगी. फिलहाल, जब तक परीक्षा आयोजित नहीं हो रही है तब तब तक अभ्यर्थी अपनी तैयारी को और बेहतर बना सकते हैं. . यह प्रवेश परीक्षा 2,000 से ज्यादा कॉलेजों में 2.5 लाख से अधिक सीटों पर एडमिशन के लिए होगी.

बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा में दो प्रश्न पत्र होंगे. प्रत्येक प्रश्न पत्र 200 अंकों का होगा. इसमें ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्न पूछे जाएंगे. दोनों प्रश्न पत्रों में 50-50 प्रश्नों के दो खंड होंगे. प्रत्येक खंड 100 अंकों का होगा. इस तरह कुल 400 अंकों की परीक्षा होगी. दोनों पेपरों में खंड ए सभी के लिए अनिवार्य होंगे.

परीक्षा में होगी निगेटिव मार्किंग

पहले प्रश्न पत्र में सामान्य ज्ञान और भाषा (हिंदी या अंग्रेजी) की परीक्षा होगी. अभ्यर्थियों को हिंदी या अंग्रेजी में से एक भाषा चुननी होगी. जबकि दूसरे प्रश्न पत्र में सामान्य अभिरुचि परीक्षण और विषय योग्यता (कला/विज्ञान/वाणिज्य/कृषि) से प्रश्न पूछे जाएंगे. दूसरे खंड में अभ्यर्थियों को अपने विषय वर्ग के ही प्रश्न हल करने होंगे. परीक्षा में निगेटिव मार्किंग भी होगी. गलत जवाब देने पर सही में से एक तिहाई अंक काट लिए जाएंगे.

पहला प्रश्न पत्र

समान्य ज्ञान- सामान्य ज्ञान अनिवार्य होगा. इसमें इतिहास, खेल, राजनीति, भूगोल, जनरल साइंस, करंट अफेयर्स और राज्य की कला एवं संस्कृति से संबंधित प्रश्न पूछे जाएंगे.

अंग्रेजी- रीडिंग कंप्रिहेंशन, टेंस में गलतियां, खाली स्थान भरो, शब्दावली, पर्यायवाची/विलोम, वाक्यों में सुधार आदि

हिंदी- हिंदी व्याकरण, उपसर्ग, प्रत्यय, गद्यांश, संधि, समास, पर्यायवाची, विपरीतार्थक शब्द, रस, छंद, अलंकार, मुहावरे और लोकोक्तियां आदि

द्वितीय प्रश्न पत्र

सामान्य अभिरुचि परीक्षण- तार्किक क्षमता, कोडिंग-डिकोडिंग, पजल, डायरेक्शन, न्यायिक निगमन, घड़ी, कैलेंडर, रक्त संबंद्धता, दिशा परीक्षण

नंबर सिस्टम, लघुत्तम समापवर्तक और महत्तम समापवर्तक, चाल,समय,दूरी, लाभ-हानि, साधरण ब्याज और चक्रवृद्धि ब्याज, समय और काम सिम्पलीफिकेशन विविध प्रश्न आदि

विषय योग्यता- अभ्यर्थी के विषय से संबंधित सवाल पूछे जाते हैं.