एसडीएम ने गोशाला का किया निरीक्षण कर परखी व्यवस्थाएं

एसडीएम ने गोशाला का किया निरीक्षण कर परखी व्यवस्थाएं

एसडीएम ने गोशाला का किया निरीक्षण कर परखी व्यवस्थाएं

खंड विकास अधिकारी को हरे चारे की व्यवस्था के दिये निर्देश।

फतेहगंज पश्चिमी। एसडीएम वेदप्रकाश मिश्रा व तहसीलदार अरविन्द तिवारी ने मंगलवार को राफियाबाद की गोशाला का निरीक्षण किया।इस दौरान एसडीएम ने गोशाला में मवेशियों को खिलाने के लिए हरे चारे और ठंड से बचने के लिए हाल के खुले दरवाजो पर तरपाल डालने के सख्त निर्देश दिए।
करीब डेढ़ बजे राफियाबाद गौशाला का निरीक्षण करने पहुँचे एसडीएम वेदप्रकाश मिश्रा ने मवेशियों के बैठने के हाल, भूसा स्टॉक, पानी की व्यवस्था देखी इस दौरान ठंड से वीमार एक गाये और  और एक बछड़ा को देखकर पशु चिकित्सा अधिकरी को दवा देने के साथ साथ मवेशियों को बांधने वाले हाल के दरवाजो पर तरपाल डालने के निर्देश गौशाला इंचार्ज भुपेन्द्र गंगवार को दिए।इसके अलावा भूसा की मात्रा कम होने पर गायों को खिलाने के लिए हरे चारा की व्यवस्था करने के लिए बीडीओ जगदीश प्रसाद शर्मा को भी निर्देशित किया। हरे चारा उगाने के लिए ग्रामपंचायत की जमीन पर उगाने की सलाह दी।इसके अलावा  गोशाला में साफ-सफाई और भोजन पानी आदि में लापरवाही बरतने पर एसडीएम ने कार्यवाही की भी चेतावनी दी।इस दौरान तहसीलदार अरविन्द कुमार तिवारी, बीडीओ जेपी शर्मा,प्रधान पति कमल गंगवार, सचिव खरगसेन गंगवार,पशु चिकित्सा अधिकारी आदि लोग मौजूद रहे।

गौशाला इंचार्ज का दर्द

गौशाला इंचार्ज भूपेंद्र ने बताया कि गोशाला में 8 कर्मचारियों की ड्यूटी रहती है, जो दो शिफ्ट में कार्य करते हैं। गोशाला में दो सौ तीन मवेशी हैं।सरकार  एक पशु के चारे के लिये तीस रुपये खर्चा देती है। 12 रुपये किलो भूसा मिल रहा है।ऐसी स्तिथि में मवेशियों को पालना एक समस्या हो गयी है।कर्जे पर धन लेकर वह खिला चुके है। आगे भी ख़िलायगे।बताया हरे चारा की व्यवस्था होने पर समस्या का निदान हो सकता है।