कानपुर का होगा कायापलट

नानाराव पार्क से कंपनीबाग तक 1350 एकड़ क्षेत्र में स्मार्ट सिटी बनेगी, मंडलायुक्त ने विकास कार्यों का लिया जायजा

कानपुर का होगा कायापलट

कानपुर शहर को स्मार्ट सिटी की सूची में शामिल करने के बाद से ही शहर में विकास कार्यों को पूरा करने में प्रशासन लगा हुआ है। नानाराव पार्क से कंपनीबाग तक 1350 एकड़ क्षेत्र स्मार्ट क्षेत्र बनेगा। इसमें भूमिगत केबल, 24 घंटे जलापूर्ति सहित अन्य मूलभूत सुविधाएं मिलेंगी।

मंगलवार को निरीक्षण के बाद नगर आयुक्त को वाकिग ट्रैक के साथ म्यूजिक प्रणाली और पब्लिक एड्रेस सिस्टम और प्रवेश और निकास बिदुओं पर सीसीटीवी कैमरे लगाने के आदेश दिए है। इस रोड पर जाम से निजात दिलाने के लिए इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम भी जल्द लागू करने के निर्देश दिये गए है।

लाइट एंड साउंड शो के जरिये दिखाया जाएगा इतिहास
नाना राव पार्क में मेमोरियल वेल मॉन्यूमेंट के ऐतिहासिक महत्व को देखते हुए मंडलायुक्त ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के सहयोग से इस साइट पर लाइट एंड साउंड शो के लिए एक परियोजना तैयार करने के लिए नगर आयुक्त को आदेश दिए है। प्रथम स्वतंत्रता संग्राम की लड़ाई का सच दिखाया जाएगा। इस वित्तीय वर्ष में स्मार्ट सिटी कारपोरेशन द्वारा इस परियोजना को शुरू किया जाएगा।

इसकी शुरुआत में 300 व्यक्तियों के बैठने की क्षमता होगी और भविष्य में आवश्यकता पड़ने पर इसे 500 व्यक्तियों तक बढ़ाया जा सकता है। यह प्रोजेक्ट अक्टूबर तक तैयार हो जाएगा। अभी हाल ही में मंडलायुक्त ने इस पार्क का निरीक्षण कर यहाँ हो रहे कार्यों को देखा था और समय पर इसे पूरा करने के निर्देश दिए थे।

क्या है मेमोरियल वेल
प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के दौरान यहां नानाराव पेशवा और अंग्रेजों की सेना के बीच युद्ध हुआ था। यहां कुएं में बड़ी संख्या में अंग्रेज अफसरों और सैनिकों को मारकर डाल दिया गया था। उसके बाद से इसे मेमोरियल वेल नाम दिया गया। इस समय यह समतल हो चुका है और यहां सीमेंट का फर्श बन गया है।

सिंथेटिक, जॉगिंग व साइकिल ट्रैक बनकर तैयार
लोग जल्द ही नानाराव पार्क में घूमने व टहलने के साथ ही सिंथेटिक ट्रैक का भी मजा ले सकेंगे। इसके अलावा जॉगिंग व साइकिल ट्रैक भी बनाया जाएगा। स्मार्ट सिटी मिशन के तहत नानाराव पार्क को भी स्मार्ट करना शुरू कर दिया गया है। 11 करोड़ रुपए से इसका सौन्दर्यीकरण किया जाएगा। जिसमे 9 करोड़ रुपए जारी किए जा चुके हैं। लखनऊ की कंपनी शिवम लाइफ को इसका ठेका दिया गया था। शहर के बीचों बीच होने के कारण यहां रोजाना 10 हजार से ज्यादा व्यक्ति आते है।

नानाराव पार्क से इन इलाकों को मिलेगा लाभ
नानाराव पार्क की वजह से फूलबाग, बिरहाना रोड, पटकापुर, कराची खाना, ब्रह्म चंट्टा, तपेश्वरी मंदिर, लाठी मोहाल, जनरलगंज, कुरसवां, नयागंज, एक्सप्रेस रोड, हुलागंज, भगवतदास घाट, रामनारायण बाजार, कमला टावर, शिवाला, मनीराम बागिया के इलाकों में रहने वाले लोगों को लाभ मिलेगा।