"करनाल घटना की जांच करेंगे, किसान दोषी पाए गए तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई करेंगे" : हरियाणा के गृह मंत्री ||

अनिल विज ने गुरुवार को कहा, 'हम करनाल घटना की जांच करेंगे...केवल आयुष सिन्‍हा नहीं. हम अधिकारियों को जांच के बगैर सजा नहीं दे सकते.' उन्‍होंने यह भी कहा, 'यदि किसान नेता दोषी पाए गए तो हम उनके खिलाफ भी एक्‍शन लेंगे.'

"करनाल घटना की जांच करेंगे, किसान दोषी पाए गए तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई करेंगे" : हरियाणा के गृह मंत्री ||

चंडीगढ़ : 

Haryana: हरियाणा (Haryana) के गृह मंत्री अनिल विज  (Anil Vij) ने कहा है कि पूरी करनाल घटना, 28 अगस्‍त को किसानों पर पुलिस लाठीचार्ज और सिविल सेवा अधिकारी आयुष सिन्‍हा के 'सिर तोड़ने (किसानों के)' के कमेंट सहित, की जांच की जाएगी. विज ने गुरुवार को कहा, 'हम करनाल घटना की जांच करेंगे...केवल आयुष सिन्‍हा नहीं. हम अधिकारियों को जांच के बगैर सजा नहीं दे सकते.' उन्‍होंने यह भी कहा, 'यदि किसान नेता दोषी पाए गए तो हम उनके खिलाफ भी एक्‍शन लेंगे.' विज का यह बयान पिछले माह के लाठीचार्ज के विरोध में आंदोलन कर रहे है.  किसानों ने दावा किया है कि लाठीचार्ज के कारण उनके एक साथी की मौत हो गई जबकि करीब 10 सहयोगी घायल हो गए. ||

गौरतलब है कि  किसानों ने बुधवार को कहा था कि कहना है कि राज्‍य सरकार के साथ उनकी बातचीत लगातार दूसरे दिन बेनतीजा रही है और वे करनाल में लंबा प्रदर्शन कर सकते हैं. किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा था, 'हम सिंघु और टिकरी बॉर्डर की तरह यहां स्‍थायी तौर पर प्रदर्शन कर सकते हैं.'  टिकैत ने बताया कि हमारी आज प्रशासन के साथ 3 घंटे मीटिंग हुई. सरकार SDM(आयुष सिन्हा) पर कोई भी कार्रवाई करने के लिए तैयार नहीं है, ऐसे में हमने तय किया है कि हमारा धरना प्रदर्शन जारी रहेगा, हमारा धरना स्थल यही रहेगा. हम चाहते हैं कि अधिकारी के ख़िलाफ़ कार्रवाई हो ||